एक कुन्टल सोना लूटने वाला इन्द्रपाल उर्फ ताऊ को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Inderpal-tau

बुलंदशहर। सिटी के एलएम ज्वैलर्स में 4 करोड़ों की डकैती डालकर पिछले 10 महीने से पुलिस के लिए सिदर्द बना इन्द्रपाल उर्फ ताऊ पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। पुलिस ने इन्द्रपाल उर्फ ताऊ को उसकी पत्नी सावित्र के साथ गंगनहर पुल के पास से गिरफ्तार कर आधा किलो सोना और आधा किलो चॉदी भी बरामद की है। एसएसपी ने बताया कि ताऊ गैंग के सतीश को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

एसएसपी अनंतदेव तिवारी ने बताया कि इन्द्रपाल उर्फ ताऊ के पीछे पुलिस पिछले 10 महीनों से लग रही थी। ताऊ एलएम ज्वैलर्स डकैती कांड का मास्टर माइन्ड है। ताऊपर 50 हजार का ईनाम भी इसी हफ्ते घोषित किया गया था। उन्होंने बताया कि ताऊ पिछले काफी समय से भेष बदलकर पुलिस से बचता हुआ घुम रहा था। एसएसपी ने बताया कि ताऊ को यूपी ही नही अन्य राज्यों की भी पुलिस तलाश कर रही थी।

Inderpal-tau-2

11 सितम्बर को डाली थी डकैती
एसएसपी ने बताया कि 11 सितंबर 2014 को इन्द्रपाल ताऊ ने अपने चहेते गुर्गे और ज्वैलरी शोरूमों में डकैती के एक्सपर्ट सतीश और गैंग के बाकी डकैतों के साथ मिलकर बुलंदशहर सिटी के एलएम ज्वैलर्स के शोरूम में दिनदहाड़े डकैती डाली थी। इस वारदात में 4 करोड़ से ज्यादा की ज्वैलरी और नकदी लूटकर डकैत पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये थे। डकैती की पूरी वारदात शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई थी। पूरी वारदात का मुख्य सूत्रधार इन्द्रपाल ताऊ डकैती का करोड़ो रूपये का माल लेकर तभी से फरार था।

यूपी और यूपी से बाहर रहा ताऊ
एसएसपी ने बताया कि ताऊ एलएम ज्वैलर्स के यहां डकैती डालने के बाद कानपुर भाग गया था। वहां से राजस्थान, गुजरात, उडीसा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तराखंड आदि राज्यों में रहा। एसएसपी ने बताया कि पिछले चार महीनों से इन्द्रपाल वृंदावन में साधू के वेश में एक मंदिर में रह रहा था। जिसे पुलिस ने उत्तराखंड भागने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया।

ताऊ के ठिकानों पर पुलिस ने दी दबिश
एसएसपी ने बताया कि मुखबिर और पुलिस तंत्र को ताऊ की तलाश में लगा दिया गया। पुलिस ने ताऊ के तमाम ठिकानों पर दबिश दी। पुलिस ने आगरा, पलवल, दिल्ली, जयपुर, बम्बई, देहरादून, हल्दवानी, खटीमा बाजपुर, बरेली, मथुरा तक पुलिस ने दबिश दी लेकिन हाथ खाली ही रहा।

Inderpal-tau-3

पुलिस ने किया गिरफ्तार
एसएसपी ने बताया कि इन्द्रपाल उर्फ ताऊ को उसकी पत्नी सावित्र के साथ रविवार को गंगनहर पुल के पास से गिरफ्तार किया है। ताऊ अपनी पत्नी सावित्री के साथ उत्तराखण्ड फरार होने वाला था। तभी पुलिस ने ताऊ को गिरफ्तार कर लिया। ताऊ के पास से आधा किलो सोना और आधा किलो चॉदी पुलिस को बरामद हुआ है।

अगला निशाना था गुजरात
एसएसपी ने बताया कि इन्द्रपाल उर्फ ताऊ नये गैंग की भर्ती कर रहा था। ताऊ ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि नये गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर राजस्थान की जयपुर सिटी में किसी मारवाडी के गोल्ड बैंक को लूटने की योजना बनाई थी। उसके बाद उत्तराखण्ड में एक ज्वैलर्स के यहां भी डैकती डालने की योजना को अंतिम रूप दे रहे थे।

20 से ज्यादा डकैतियों में कमाया एक कुंटल सोना
सोना लूटना इन्द्रपाल ताऊ का शगल है। पत्रकार वार्ता में उसने बताया कि अब तक की गयी वारदातों में उसने एक कुंटल से ज्यादा सोना लूटा है। जिसमें गुजरात के सूरत में 30 किलोग्राम सोने की डकैती, दिल्ली के लाजपतनगर में 20 किलोग्राम सोना, दिल्ली के शकरपुर डकैती में 10 किग्रा, मथुरा के ज्वैलरी शोरूम से 10 किग्रा, हरियाणा के फरीदाबाद से 7 किग्रा और बुलंदशहर के ज्वैलरी शोरूम से 6 किग्रा सोना लूटा है।

गैंग की भर्ती के लिए चुनी जेल
अपनी कैद के दौरान ताऊ ने जेल में शातिर और नये बदमाशों को अपने गैंग में शामिल किया। उसके गैंग में एक बार वारदात करने के बाद वह उस बदमाश को दूसरी बार वारदात में शामिल नही करता था। उसकी निगाहें ऐसे बदमाशों पर होती थी जो दुस्साहसी हो और नये होने के अलावा अच्छे पढ़े-लिखे हो। पढ़े-लिखे बदमाशों को पुलिस की कार्यशैली की बेहतर समझ होती है और ऐसे में खाकी से बचना आसान हो जाता है।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s