मोबाइल एप रोकेगा बोर्ड परीक्षा के नकलची

बुलंदशहर। यूपी बोर्ड परीक्षाओं में होने वाले फर्जीवाड़े और नकल पर नकेल कसने के लिए प्रदेश सरकार ने अबकी बार फुलप्रूफ इंतजाम किये है। 18 फरवरी से शुरू होने वाली इन परीक्षाओं में केन्द्र व्यवस्थापक को आधुनिक तकनीक से लैस किया गया है। इस व्यवस्था में यूपी बोर्ड द्वारा जारी एक सिमकार्ड और मोबाइल एप पूरे सिस्टम को बदल देगा और पारदर्शी परीक्षाऐं की जा सकेगी।

प्रदेश में 18 फरवरी से 31 मार्च तक चलने वाली यूपी बोर्ड की परीक्षाओं के लिए अबकी सरकारी इंतजाम बड़े तगड़े कर दिये गये है। अभी भी वक्त है…परीक्षार्थी जान ले कि फर्जीवाड़ा और नकल इस बार दोनो नही होगे। प्रदेश सरकार ने नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए केन्द्र व्यवस्थाओं के हाथ बांध दिये है। जिला विद्यालय निरीक्षक रामाज्ञा कुमार सिंह ने बताया कि केन्द्र व्यवस्थापक को परीक्षा शुरू होने के 20 मिनट के अंदर पूरे केन्द्र में मौजूद परीक्षार्थियों की हाजिर एक मोबाइल एप में दर्ज करनी होगी। यूपी बोर्ड द्वारा जारी स्पेशल सिमकार्डो से आपरेट ये मोबाइल एप केवल एन्ड्राएड फोन पर काम करेगा।

इस एप का नाम स्टूडेंट अटैन्डेन्स मॉनीटरिंग सिस्टम है। एन्ड्राइड फोन में दी गयी सिम डालकर ही इस एप को डाउनलोड किया जा सकता है। यह एप में दिये गये विकल्पों में परीक्षा के दौरान मांगी गयी जानकारियां ऑनलाइन फीड करनी होगी। पूरे प्रदेश में होने वाली बोर्ड परीक्षा के परीक्षार्थियों का डेटा परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे के अंदर बोर्ड के अधिकारियों के पास पहुँच जायेगा।

कक्षा 10 के 48858 तथा 12वीं के 35700 परीक्षार्थी इस बार बुलंदशहर में आयोजित बोर्ड परीक्षा में बैठेगे। सभी परीक्षा केन्द्रो पर जनसुविधाऐं और बिजली की व्यवस्था करने के आदेश दिये गये है। पूरे जिले को आठ जोन और 12 सेक्टरों में बांटा गया है। सेक्टर मजिस्ट्रेट के तौर पर उप जिलामजिस्ट्रेटों की ड्यूटी लगाई गयी है। इसके अतिरिक्त अन्य विभागों के अफसर फ्लाइंग स्कॉट में मौजूद रहेगे।

जिलाधिकारी बी0 चन्द्रकला ने बताया कि मंडलायुक्त मेरठ के निर्देश पर जिले के सभी 112 परीक्षा केन्द्रो को सीसीटीवी कैमरों से लैस किया जा रहा है। ये कैमरे परीक्षा के दौरान कक्ष में होने वाली हर गतिविधि को रिकॉर्ड करेगे। मकसद ये है कि अगर किसी केन्द्र या कक्ष में नकल होने की शिकायत मिलती है तो सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खँगालकर केन्द्र व्यवस्थापक के खिलाफ आसानी से कार्रवाई की जा सकेगी।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s