DGP ने कहा तीन आरोपियों की हुई पहचान, जल्दी होगे अरेस्ट, पुलिस पर की कार्यवाई

बुलंदशहर। एनएच 91 पर हुई हुई दिल दहलादेने वाली वारदात के खुलासे के लिए डीजीपी व होम सेकेट्री ने घटना स्थल का निरीक्षण किया है। डीजीपी ने कहा कि पीड़ितों की निशानदेही पर 5 लोगों को हिरास्त में लेकर पूछताछ की जा रही है। उन्होने कहा कि घटना का खुलासा शीद्य्र कर दिया जायेगा। डीजीपी के जाने के कुछ देर बाद SSP, SP city, CO City व दो कांस्टेबिल को निलम्बित कर दिया गया।

यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने एनएच 91 पर हुई घटना का संज्ञान लेते हुए पुलिस महानिदेशक जावेद अहमद को घटना का खुलासा करने के लिए 24 घंटे का वक्त दिया है। रविवार को 4 बजे पुलिस लाईन पहुंचे होम सेक्ट्री देवआशिष पांडा, पुलिस महानिदेशक जावेद अहमद व नेशनल महिला आयोग की टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद पुलिस लाईन पहुंचे होम सेक्ट्री, डीजीपी जावेद अहमद और मेरठ रेंज की डीआईजी लक्ष्मी सिंह ने एसएसपी, एसपी सिटी से घटना विषय में वार्ता की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी साझा करते हुए कहा कि तीन आरोपियों की पहचान पीड़ितों द्वारा की जा चुकी है। इनमें से एक आरोपी फरीदाबाद, एक बुलंदशहर और एक बठिंडा का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि बब्लू, नरेश उर्फ काकू व रईस को पहचाना कर ली गई है जिन्हें जल्दी अरेस्ट कर लिया जायेगा। डीजीपी ने बताया कि बब्लू इस से पहले भी कई घटनाओ में जेल जा चुका है।

वारदात (29-30 की देर रात) कोतवाली देहात क्षेत्र के पास दोस्तपुर गाँव में हुई थी। पीड़ित ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 91 पर दोस्तपुर गांव के पास डकैतों ने सड़क पर एक लोहे की रोड़ को फैंक दिया। कार का एक्सिल टूटने के भ्रम होने के कारण कार को सड़क के किनारे रोकर दिया। तभी सड़क के किनारे झाड़-झांकार से करीब 7 से 8 डकैत हथियारों के साथ बाहर निकल आए। डकैतो ने परिवार के सदस्यों को बंधक बनाकर वहीं छोड दिया। लेकिन एक महिला और उसकी 14 वर्षीय बेटी को अपने साथ कार में हाइवे से करीब 50 मीटर दूर खेतों में ले गए।

डकैतों ने पहले तो नकदी, लाखों रूपये का सामान और महिलाओं के जेवर लूट लिए। फिर कार कार में बैठी माँ-बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार भी किया है। बदमाश करीब डेढ़ घंटे तक वारदात को अंजाम देते रहे और इलाके की पुलिस बे खबर सोती रही। भोर तक तक डकैतों का तांडव जारी रहा। डकैतों के जाने के बाद पीड़ित परिवार ने 100 नम्बर पर कॉल भी की लेकिन पुलिस कंट्रोल रूम में किसी ने फोन नही उठाया। उसके बाद पीड़ित परिवार ने नोएडा में अपने किसी मिलने वाले को कॉल कर घटना की सूचना दी।

इलाज के लिए दिए 50-50 हजार रूपए
जिला प्रशासन न दोनो गैंगरेप पीड़ित को इलाज के लिए 50-50 हजार रूपए दिए है। रविवार को पुलिस लाईन पहुंचे डीएम आन्जनीय सिंह ने बताया कि एनएच 91 पर हुई घटना बहुत ही दुखद पूर्ण है। उन्होने बताया कि दोनो गैंगरेप पीड़िताओं को इलाज के लिए रेडक्रांस सोसाइटी की तरफ से 50-50 हजार रूपए दिए गए है। साथ ही शासन की रिपोर्ट भेजी गयी है।

वारदात के बाद पुलिस को नहीं मिले थे सबूत
एनएच 91 पर लूट के बाद महिला और 14 वर्षीय बच्ची से गैंगरेप के मामले में पुलिस को प्रारम्भिक जांच में कुछ नही मिला था। रविवार को होम सेकेट्री देवआशिष पांडा, डीजीपी जावेद अहमद, मेरठ रेंज की डीआईजी लक्ष्मी सिंह व डिबाई विधानसभा क्षेत्र के विधायक गुडडू पंडित घटना स्थल का निरीक्षण करने पहुंचे थे। निरीक्षण के दौरान विधायक गुडडू पंडित ने घटना स्थल पर पड़ा हुई महिला का पर्स, सोने की चैन व सोने की अंगूठी पुलिस को दी थी।

100 नम्बर नहीं उठा था फोन
डीजीपी जावेद अहमद के निरीक्षण में यह बात भी सामने आई कि 100 नम्बर पर पीड़ित परिवार ने फोन किया लेकिन फोन नही उठा। डीजीपी ने बताया कि पीड़ित पक्ष ने बताया कि वारदात के बाद उन्होंने 100 नम्बर पर काॅल की थी, लेकिन 100 नम्बर पर फोन नही उठा। तो पीडित ने फोने नोएडा में अपने एक मिलने वाले को की। उसके बाद पीड़ित पक्ष कोतवाली देहात पहुंच सका। डीजीपी ने कहा कि ये गम्भीर मामला है इस पर कार्रवाई की जायेगी।

एसएसपी व एसपी सिटी पर गिरी गाज
होम सेकेट्री देवआशिष पांडा व डीजीपी जावेद अहमद के जाने के एक घंटे बाद ही पुलिस पर गाज गिर गई। एसएसपी वैभवकृष्ण, एसपी सिटी राममोहन सिंह, सीओ हिमांशू गौरव व दो इंस्पेक्टरों को सस्पेंड किया गया है। इन अधिकारियों को सस्पेंड करने के पीछे काम में लापरवाही होना माना जा रहा है।

नही हुई कार्रवाई तो करेगें घेराव
बुलंदशहर के बीजेपी सांसद ने कहा कि प्रदेश सरकार में थाने और चैकी का सौदा हो रहा है। प्रदेश सरकार जैसे पुलिस को निर्देश देती है पुलिस वैसा ही करती है। सांसद ने कहा कि यूपी में सपा शासन में इस प्रकार की घटना होनो कोई बडी बात नही है। साथ ही कहा कि थानों में पुलिस एफआईआर दर्ज करने से बचती है। सांसद ने कहा कि सरकार के दबाव में यूपी पुलिस काम कर रही है। सांसद ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि अगर 24 घंटे के अंदर कार्रवाही नही होगी तो बीजेपी पुलिस का घेराव करेगी।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s